[राशि] राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना फॉर्म ~ ऑनलाइन आवेदन

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना फॉर्म”

Updated 23.07.2019-

राजस्थान अंतरजातीय विवाह योजना – दोस्तों राजस्थान सरकार द्वारा राज्य अंतरजातीय विवाह योजना के तहत राज्य के बाहर नवविवाहित दंपत्ति जिन्होंने अंतर जाति विवाह योजना के तहत शादी की है उन्हें सहायता राशि प्रदान की जाएगी योजना के तहत केवल उन्हीं लोगों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा जिसके तहत लड़के या लड़की में से कोई एक स्वर्ण जाति से संबंध रखता हो जबकि दूसरा अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति से संबंध रखता हो वही योजना के लिए पात्र होंगे | योजना के बारे में अधिक जानकारी नीचे दी गई है जिसे आप ध्यान पूर्वक पढ़ सकते हैं |

दोस्तों जैसे कि नाम से ही पता चल रहा है कि आज हम आपको राजस्थान सरकार द्वारा राज्य में अंतर जाति विवाह करने वाले नवविवाहित दंपतियों को सहायता राशि प्रदान करने जा रही है दोस्तों आज हम आपको इस योजना के लिए जरूरी योग्यता योजना के लाभ और किस तरह आप ऑनलाइन आवेदन करके योजना का तुरंत लाभ प्राप्त कर सकते हैं यह हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बताएंगे | इसीलिए आर्टिकल से जुड़ी अन्य जानकारियां प्राप्त करने के लिए नीचे दिए हुए हमारे इस लेख को आप ध्यान पूर्वक पढ़ लीजिए |

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना फॉर्म

अंतर जाति विवाह करने वाले नवविवाहित दंपतियों को राजस्थान सरकार द्वारा 2.50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी इस योजना का लाभ के राजस्थान राज्य के स्थाई निवासी ही ले सकते हैं राज्य में भेदभाव छुआछूत जैसी कुप्रथा को जड़ से खत्म करने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है इस योजना का लाभ केवल वही उम्मीदवार ले सकते हैं | जिसके अंतर्गत नवविवाहित जोड़ों में से कोई एक स्वर्ण जाति से संबंध रखता हो जबकि दूसरा अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति से संबंध रखता हो वही इस योजना का लाभ ले सकते हैं इस योजना की देखरेख राजस्थान सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा की जा रही है

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना फॉर्म
राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना फॉर्म

प्रिय राजस्थान वासियों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में अंतरजातीय विवाह करने वाले नवविवाहित दंपतियों को कई मुसीबतों का सामना करना पड़ता है | राज्य सरकार द्वारा राज्य में अंतर जाति विवाह योजना की शुरुआत की गई है योजना के तहत प्रोत्साहन राशि के लिए नवविवाहित दंपतियों को 2.50 लाख रुपए की सहायता राशि प्रदान की जाती है | योजना के अंतर्गत नवविवाहित दंपत्ति घर का सामान खरीदने के लिए इस प्रोत्साहन राशि का उपयोग कर सकते हैं योजना को शुरू करने का एकमात्र मुख्य उद्देश्य राज्य के नौजवानों को इंटरकास्ट मैरिज करने वाले नवविवाहित दंपतियों को प्रोत्साहित करना है तथा राज्य में छुआछूत , भेदभाव जैसी अन्य को प्रथाओं को बंद करना योजना का एकमात्र मुख्य उद्देश्य है | राज्य के सभी धर्म मिलजुल कर एक साथ है बस इसी उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है |

  • योजना का नाम –राजस्थान अंतरजातीय विवाह योजना
  • योजना का क्षेत्र – समस्त राजस्थान
  • शुरु की योजना – वर्ष 2011
  • सहायता राशि – 2.50 लाख रुपए
  • योजना की देख रेख – सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय

अंतरजातीय विवाह योजना

दोस्तों राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा इस योजना में बदलाव किए गए थे | योजना के अंतर्गत योजना का लाभ ले सकते हैं जिनमें से लड़के या लड़की में से कोई एक सामान्य जाति से संबंध रखता हो जबकि दूसरा अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति से संबंधित योजना का लाभ ले सकते हैं दोस्तों राज्य के पूर्व समाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री अरुण चतुर्वेदी जी ने कहा था कि इस योजना के लिए राज्य सरकार द्वारा बनाए गए हैं जिसके तहत राशि का उपयोग सही ढंग से किया जा सके योजना का लाभ लेने वाले उम्मीदवारों के पास शादी का कोट होना अनिवार्य है योजना को शुरू करके राज्य सरकार राज्य में इंटर कास्ट मैरिज को बढ़ावा देना चाहती है ताकि राज्य में अंतर जाति विवाह करने वाले नवविवाहित दंपतियों की संख्या में वृद्धि हो और अधिक से अधिक लोग इस योजना से जुड़े बस इसी एक उद्देश्य के कारण इस योजना की शुरुआत की गई है |

योजना के लाभ

  • योजना के अंतर्गत नवविवाहित दंपतियों को अपना घर चलाने के लिए राज्य सरकार की तरफ से 2.50 लाख रुपए की सहायता राशि प्रदान की जाएगी |
  • नवविवाहित दंपतियों को अपना घर बचाने के लिए किसी प्रकार की दिक्कत ना हो इसलिए इस योजना की शुरुआत की गई है |
  • नवविवाहित दंपतियों को 2.50 बात रूपए नए घर बचाने सामान खरीदने के लिए दिए जाएंगे |

जरूरी योग्यता

  • योजना का लाभ लेने बाल नवविवाहित दंपतियों में से कोई एक सामान्य वर्ग से संबंध रखता हो जबकि दूसरा अनुसूचित जाति से संबंध रखता हो |
  • आवेदन करने वाले राजस्थान के स्थाई निवासी होने चाहिए |
  • आवेदन कर्ता की आयु 35 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए |
  • योग्य उम्मीदवार के पास कोर्ट मैरिज  अनिवार्य है |
  • योजना का लाभ लेने वाले योग्य उम्मीदवार की पारिवारिक वार्षिक आय ₹200000 से अधिक नहीं होनी चाहिए |

योजना के लिए जरूरी कागजात

  • आधार कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • कोर्ट मैरिज सर्टिफिकेट
  • पारिवारिक आय प्रमाण पत्र
  • नवविवाहित दंपत्ति एक साथ फोटो
  • बैंक अकाउंट

राजस्थान अंतरजातीय विवाह योजना ऑनलाइन आवेदन

  • योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहले आपको यहां पर क्लिक करना होगा |
  • इसके पश्चात आपको राजस्थान अंतरजातीय विवाह योजना का फॉर्म प्राप्त होगा |
  • आपको आवेदन फॉर्म में सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्रालय प्राप्त हो सकता है आप वहां जाकर भी आवेदन प्राप्त कर सकते हैं |
  • ध्यान रखे आपको आवेदन फॉर्म के साथ जरूरी दस्तावेज अटैच करने होंगे
  • इसके पश्चात आप के दस्तावेजों की जांच होगी यदि आप सही पाए गए तो आपको इस योजना का लाभ तुरंत मिल जाएगा |
  • दोस्तों ध्यान रखिए आप को इस योजना का लाभ 1 साल के अंदर ही लेना पड़ेगा |

दोस्तों आज हमने आपको राजस्थान अंतरजातीय विवाह योजना की जानकारी दी आर्टिकल से जुड़े कोई भी प्रश्न आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का अवश्य उत्तर देंगे धन्यवाद पोस्ट को शेयर करना ना भूले |

You May Like –

  1. Pradhan Mantri Awas Yojana 2019-20 – Check Your Name In List

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *